Saturday, November 20, 2010

संतुष्टि

शाकाहारी खाना खाया
मांसाहारी खाना खाया

कीमती कपडे ख़रीदे
कीमती जूते ख़रीदे

कई फिल्मे देखि
कई गाने सुने

सस्ता मदिरा पिया
महंगा मदिरा पिया

सुन्दर लडकियों को देखा
उनके पीछे गया, प्यार ख़रीदा

वक़्त को कोशिश की मीचने की
और कोशिश की जीवन बदलने की

किन्तु फिर भी न मिली संतुष्टि

क्या करू अब ?

कहा मिलेगी ये संतुष्टि ?
उस बाज़ार का नाम बता दो |

1 comment: